42 लाख रुपये की करेंसी हुई खाक! सरकारी अफसरों की लापरवाही का रहा मामला

0
122

उत्तरप्रदेश के कानपुर से एक बेहद ही चौंकाने वाला मामला सामना आया है. दरअसल यहां एक सरकारी बैंक में लाखों रुपये की करेंसी बेकार हो गई है. जिसका कारण बरसात रही. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो मामला कानपुर के पांडु नगर में स्थित पंजाब नेशनल बैंक का है. यहां पहले तो अफसरों ने इस बात को छुपाना चाहा, लेकिर जब इतने बड़े नुकसान की खबर सबको लगी तो सभी के होश फाख्ता हो गए. मामले पर कार्रवाही के तहत चार अफसरों को सस्पेंड भी कर दिया गया है.

बरसात की सीलन से सड़े नोट
मीडिया रिपोर्ट्स का दावा है कि लाखों रुपये की करेंसी खराब होने की बड़ी वजह बरसात की सीलन रही है. बरसात की सीलन की वजह से बैंक की शाखा में रखे नोट गल कर सड़ गए. हैरानी वाली बात तो ये कि नोटों की इस हालत के बारे में शाखा में मौजूद कर्मियों तक को अहसास नहीं हुआ, पूरा मामला लापरवाही का बताया जा रहा है.

ऐसी खुली पोल
मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो इस खबर की जानकारी केंद्रीय बैंक आरबीआई द्वारा जुलाई महीने की ऑडिट में सामने आया. ऑडिट के दौरान जानकारी मिली थी कि कम से कम 10 लाख रुपये और ज्यादा से ज्यादा 14 लाख रुपये के सड़ चुके हैं, लेकिन जब खराब नोटों की गिनती की गई तो खराब करेंसी का अमाउंट 42 लाख रुपये सामने आया. बताया जा रहा है कि लापरवाही के इस मामले में बड़े अफसरों पर कार्रवाही नहीं की गई है. नोटों के गल कर सड़ने की वजह उनका तिजोरी में ना होना भी माना जा रहा है. नोटों को बक्से में रख कर स्टोर किया गया था, जिसकी वजह से लाखों रुपये बर्बाद हुए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one + 2 =