उम्र के साथ आपके पेनिस में भी आते हैं ये बड़े बदलाव, जानिए क्या पड़ता है इनका प्रभाव

0
86

नई दिल्ली: पेनिस की हेल्थ के लिए इरेक्शन बेहद जरूरी है। इरेक्शन केवल Sexual Stimulation के लिए आवश्यक नहीं होता बल्कि हेल्दी ऐक्टिव मेल बॉडी होने के लिए भी जरूरी है। यदि आपको रेग्युलर्ली इरेक्शन नहीं होता तो चेक करने की आवश्यकता है। इसमें शर्मिंदगी की बात नहीं है, यह एक नैचरल प्रक्रिया है जो कि यह बताती है कि आपकी बॉडी में सबकुछ सही है।

20 से 30 वर्ष की उम्र, आपके जीवन का ऐसा समय होता है जब आप सबसे अधिक ऐक्टिव होते हैं। आपको उत्तेजित होने के लिए फीमेल टच की भी जरुरत नहीं पड़ती। इरेक्शन पाना जरा भी कठिन नहीं होता और अक्सर इस उम्र में अपने आप हो जाता है। सुबह के समय काफी सारे पुरुष इरेक्शन के साथ उठते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ग्रोथ हॉर्मोन्स सही काम कर रहे होते हैं और मेटाबॉलिज्म हाई रहता है। किन्तु कई पुरुषों में प्रिमच्योर की समस्या होती है जिसका उपचार होना जरूरी है।

वहीं 30 से 40 वर्ष की आयु में एक बार इजैक्युलेशन होने के बाद इरेक्शन पाना कठिन हो जाता है। हालांकि आपकी सेक्स की इच्छा (लिबिडो) 20 की आयु जैसी ही रह सकती है, किन्तु पहले जैसी सहजता नहीं रह जाती। पुरुषों को अभी भी इरेक्शन मिलता है, किन्तु कभी-कभी टच की आवश्यकता पड़ती है। यह ऐसी आयु होती है जब आप सेक्स ड्राइव के लिए उतने उतावले नहीं रहते। इस आयु से इरेक्टाइल डिसफंक्शन की समस्या शुरू हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fourteen − 7 =